ट्रम्प के झूठ की दुनियां में चर्चा, झूठ के सारे रिकॉर्ड तोड़े

डोनाल्ड ट्रंप राष्ट्रपति बनने के बाद 10 हजार से ज्यादा बार बोल चुके हैं झूठ, अमेरिकी अखबार वाशिंगटन पोस्ट ने ही उनकी पोल खोल दी है। दुनिया से डोनाल्ड ट्रंप राष्ट्रपति बनने के बाद 10 हजार 796 बार गलत और गुमराह करने वाले दावे कर चुके हैं.अपने कार्यकाल के 869 दिन तक ट्रंप ने 10 हजार 796 बार झूठ बोला और गुमराह करने वाले दावे किए.

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप  के कश्मीर को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच ‘मध्यस्थता’ वाले बयान को भारत खारिज कर चुका है. ऐसे में सोशल मीडिया पर लोग ट्रंप को झूठा बोल रहे हैं. साथ ही उन पर मीम्स भी बन रहे हैं. हालांकि ऐसा पहली बार नहीं हुआ जब ट्रंप ने झूठ बोला हो या गुमराह करने वाला दावा किया हो. ट्रंप कई बार झूठ बोल चुके हैं और उन्होंने कई बार गुमराह करने वाले दावे किए हैं. ट्रंप की झूठ की पोल कई बार अमेरिका के ही अखबार ने खोली है. अमेरिकी अखबार वाशिंगटन पोस्ट ने कई बार ट्रंप के झूठ को पकड़ा है.

वॉशिंगटन पोस्ट के फैक्ट चेकर्स डेटाबेस के मुताबिक डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति बनने के बाद 10 हजार 796 बार झूठ बोल चुके हैं. अपने कार्यकाल के 869 दिन तक ट्रंप ने 10 हजार 796 बार झूठ बोला और गुमराह करने वाले दावे किए. अमेरिका का राष्ट्रपति बनने के बाद से ट्रंप ने औसतन रोजाना 12 बार झूठ बोले हैं.

इन दावों में से लगभग पांचवां हिस्सा इमीग्रेशन के बारे में है, उनके हस्ताक्षर का मुद्दा – एक प्रतिशत जो कि तब से बढ़ गया है जब सरकार ने यू.एस.-मैक्सिको सीमा के साथ अपनी वादा की गई दीवार के लिए फंड बंद कर दिया था. सबसे ज्यादा ट्रंप ने 172 बार झूठा दावा किया कि उनकी सीमा की दीवार बनाई जा रही है. इसके अलावा उन्होंने कारोबार और अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रूस के दखल के मुद्दे पर भी कई बार झूठ बोला है.

इस खबर से पूरे दुनिया मे अमेरिका की किरकीरी हो रही है। अमेरिका के राष्ट्रपति को दुनिया का सबसे शक्तिशाली व्यक्ति माना जाता है। अब देखना होगा कि इस खबर का उनकी प्रतिष्ठा पर क्या प्रभाव पड़ता है।

Related posts

Leave a Comment