मेरिट सूची के छात्रों को कलेक्टर ने किया सम्मानित

जबलपुर संवाददाता

माध्यमिक शिक्षा मंडल तथा केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की दसवीं और बारहवीं की परीक्षा की मेरिट सूची में स्थान अर्जित करने वाले जिले के मेधावी छात्र-छात्राओं का कलेक्टर श्रीमती छवि भारद्वाज ने आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित समारोह में सम्मान किया ।
श्रीमती भारद्वाज ने समारोह को संबोधित करते हुए बच्चों को वार्षिक परीक्षाओं में अच्छी सफलता प्राप्त करने की बधाई देते हुए कि उनकी इस उपलब्धि से न केवल उनके परिवार का सम्मान बढ़ा है बल्कि पूरा जिला भी गौरवांवित हुआ है ।
कलेक्टर ने अपने प्रेरक उद्बोधन में बच्चों को भविष्य के लिए बड़ा लक्ष्य तय करने और उसे प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करने की सीख दी । श्रीमती भारद्वाज ने कहा कि बच्चों को अपनी उम्र के इस पड़ाव के महत्व को समझना होगा और यह तय करना होगा कि उन्हें किस तरह इस समय का उपयोग करना है। उनके जीवन के ये चार-पांच वर्ष सबसे महत्वपूर्ण हैं और यही वह समय है जब वे अपने जीवन की दिशा और लक्ष्य तय कर सकते हैं।
कलेक्टर ने बच्चों से कहा कि वे केवल पढ़ाई पर ही अपना ध्यान केन्द्रित करें । ताकि अपनी इस सफलता को आगे भी न केवल बरकरार रख सकें बल्कि इसे और बेहतर कर सकें । उन्होंने इस दिशा में जिला प्रशासन की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन देते हुए कहा कि किसी भी तरह की कठिनाई आने पर नि:संकोच और बिना किसी संशय के उनसे मिल सकते हैं।

श्रीमती भारद्वाज ने इस अवसर पर कहा कि दसवीं और बारहवीं की परीक्षाओं की प्रावीण्य सूची में बड़ी संख्या में शासकीय स्कूलों के बच्चों ने स्थान प्राप्त कर यह साबित कर दिया है कि प्रतिभा के आगे परिवार की पृष्ठभूमि या आर्थिक स्थिति ज्यादा मायने नहीं रखती । उन्होंने बच्चों को भविष्य में भी अच्छी सफलता प्राप्त करने के लिए शुभकामनाएं दी तथा उनके अभिभावकों को भी बधाई दी ।
समारोह में कलेक्टर ने मेरिट में आये बच्चों को गुलाब का फूल देकर स्वागत किया तथा प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह भेंटकर उनका सम्मान किया । कलेक्टर ने इन बच्चों से बड़ी सहजता से बातें भी की और उनका हौसला बढ़ाया । कलेक्टर के हाथों सम्मान पाकर बच्चे भी बेहद उत्साहित दिखे । उन्होंने कलेक्टर के साथ्‍ फोटो खिचवाया और सेल्फी भी ली ।
मेधावी बच्चों के सम्मान समारोह में अपर कलेक्टर डॉ. राहुल फटिंग, अपर कलेक्टर डॉ. सलोनी सिडाना, जिला शिक्षा अधिकारी संतोष नेमा, मॉडल स्कूल की प्राचार्य श्रीमती वीणा वाजपेई एवं शिक्षा विभाग के अन्य अधिकारी भी मौजूद थे ।

Related posts

Leave a Comment