पार्क बने असमाजिक तत्वों के दारू और जुआ के अड्डे


ग्वालियर के पार्क व मैदान अघोषित दारू के अड्डे बन चुके है। रोज रात में यहां असामाजिक तत्व आकर दारू पीते है और सम्भव है कि किसी अपराध की योजना भी यहीं बनती हो। लेकिन नगर निगम के पार्क अधिकारी की लापरवाही का आलम ये है कि किसी पार्क में सुरक्षा की कोई व्यवस्था नही की है।

छत्री मैदान में रोज सेकंडों बच्चे खेलने आते है रात के समय कुछ असामाजिक तत्व बीयर और शराब पीकर बोतलें फोड़ जाते है। छोटे बच्चों पर इसका गलत असर पड़ता है।
इन पार्कों में न तो नियमित सफाई होती नही ही पुलिस की गश्त टीम कभी किसी कार्यवाही का प्रयास करती। अधिकांश पार्क व मैदान में कोई न कोई मंदिर भी बना हुआ है। यहां भी जुआरी ओर नशा करने वालो का प्रतिदिन जमावड़ा लगा रहता है दारू के साथ साथ सूंघने वाला नशा कुछ युवक करते रहते है रोकने टोकने पर आए दिन झगड़ा करने पर उतारू भी हो जाते हैं। लगता है कि लापरवाह नगर निगम अधिकारी इन पार्कों में किसी बड़ी अनहोनी का इंतज़ार कर रहे हैं।

अगली खबर में एक और पार्क की हकीकत

पढ़ते रहिये www.theinglespost.com

io

Related posts

Leave a Comment