सिनेमा कोई बाइबिल नहीं, ये अच्छा इंसान नहीं बनाता, metoo पर गुलजार का विवादित बयान

मशहूर गीतकार गुलजार ने #MeToo आंदोलन को लेकर बयान दिया है। गुलजार ने बाइबिल और सिनेमा को लेकर अपनी बात बात रखी है। इस बयान के बाद चर्चा थोड़ी गरम हो गई है। गुलजार ने साफ तौर पर कहा कि यदि आप सोच रहे हैं कि सिनेमा कोई बाइबिल की तरह है तो आप गलत हैं। दरअसल, एक किताब लॉन्चिंग के मौके पर उन्होंने ये बातें रखीं। वैसे इस आंदोलन को लेकर अमिताभ बच्चन व अन्य कई कलाकारों ने राय रखी है।

जानकारी के मुताबिक, मशहूर गीतकार गुलजार ने कहा, ‘सिनेमा समाज का प्रतिबिंब है। यदि आप ऐसा सोच रहे हैं कि रेप, यौन शोषण जैसी घटनाएं केवल सिनेमा में होती हैं तो ऐसा नहीं है। अभी तो समाज में देखने को मिल रहा है कि 4 साल और 8 साल तक की बच्चियों के साथ रेप हो रहा है। थैंक गॉड की सिनेमा समाज को ऐसा आईना नहीं दिखाया।

Related posts

Leave a Comment